Hanuman Janmotsav 2024: एक साल में दो बार क्यों मनाया जाता है हनुमान जन्मोत्सव? जानिए इसके पीछे का अद्भुत रहस्य

पंचांग के अनुसार चैत्र पूर्णिमाकी तिथि की शुरुआत 23 अप्रैल सुबह 3.25 बजे हो रही है. इस तिथि का समापन 24 अप्रैल 2024 को सुबह 5.18 बजे पर होगा. मान्यता के अनुसार हनुमान जयंती 2024,का पर्व 23 अप्रैल को मनाया जाएगा.

हनुमान जयंती 23 April 2024
हनुमान जयंती 23 April 2024

हनुमान जयंती को साल में दो बार मनाने का कारण हिन्दू पंचांग (कैलेंडर) के अनुसार है। हिन्दू पंचांग में जयंती के दो प्रमुख तिथियां हैं – एक चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा और दूसरी वैशाख मास के कृष्ण पक्ष की पूर्णिमा।

  1. चैत्र शुक्ल पूर्णिमा को हनुमान जयंती के रूप में मनाया जाता है। इस दिन भगवान हनुमान के जन्म के अवसर पर उनकी पूजा-अर्चना और भक्ति की जाती है। यह तिथि चैत्र मास के पूर्णिमा को पड़ती है, जो मार्च-अप्रैल के बीच होता है।
  2. वैशाख कृष्ण पूर्णिमा को भी हनुमान जयंती के रूप में मनाया जाता है। यह तिथि वैशाख मास के कृष्ण पक्ष की पूर्णिमा पर पड़ती है, जो अप्रैल-मई के बीच होता है।

पंचांग के अनुसार आज चैत्र पूर्णिमाकी तिथि की शुरुआत 23 अप्रैल सुबह 3.25 बजे हो रही है. इस तिथि का समापन 24 अप्रैल 2024 को सुबह 5.18 बजे पर होगा. मान्यता के अनुसार हनुमान जयंती 2024,का पर्व 23 अप्रैल को मनाया जाएगा.

इस प्रकार, हिन्दू पंचांग के अनुसार हनुमान जयंती के दो अवसर प्राप्त होते हैं और भगवान हनुमान के भक्त इन दोनों तिथियों पर उनकी पूजा-अर्चना करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Open chat
1
Chat Now For Free Gift
RudraLok
ॐ नमः शिवाय👋
उपहार प्राप्त करने के लिए हमसे बात करें।